Wednesday, June 27, 2012

सफलता के लिए ज़रूरी है Focus !


ऐसा  क्यों  होता  है  कि  कई बार  सब  कुछ  होते  हुए  भी  हम  वो  नहीं  कर  पाते  जिसको  करने  के  बारे  में   हमने  सोचा  होता  है ….दृढ  निश्चय  किया  होता ……खुद  को  promise किया  होता  है  कि  हमें  ये  काम  करना  ही  करना  है …चाहे  जो  हो  जाए ….!!!

"सब  कुछ  होते  हुए" से  मेरा  मतलब  है  आपके  पास  पर्याप्त  talent, पैसा ,  समय , या  ऐसी  कोई  भी  चीज  जो  उस  काम  को  करने  के  लिए  ज़रूरी  है ;  होने  से  है .

यह  एक  शाश्वत  सत्य  है  कि  सम्पूर्ण  ब्रह्माण्ड में  हम  जिस  चीज  पर  ध्यान  केन्द्रित  करते  हैं  उस  चीज  में  आश्चर्यजनक  रूप  से  विस्तार  होता  है . इसलिए  सफल  होने  के  लिए  हमें  अपने  चुने  हुए  लक्ष्य   पर  पूरी  तरह  से  focussed होना  होगा ; और  तभी  हम  उसे  हकीकत  बनते  देख  पायेंगे .

Focus करने  का  क्या अर्थ  है ?

एक  idea लो  . उस  idea को  अपनी  life बना  लो - उसके  बारे  में  सोचो  उसके  सपने  देखो , उस  idea को  जियो  . अपने  दिमाग , muscles, nerves, शरीर  के  हर  हिस्से  को  उस  आईडिया  में  डूब  जाने  दो , और  बाकी  सभी  ideas को  किनारे  रख  दो . यही सफल  होने  का  तरीका  है , यही  वो  तरीका  है  जिससे  महान  लोग  निर्मित  होते  हैं .

Friends, उपरोक्त  कथन Swami  Vivekananda के  हैं  और  मुझे  लगता  है  कि  Focus शब्द को  शायद  ही  इससे  अच्छे  ढंग  से  समझा  जा  सकता  है .

इस कथन में जहाँ स्वामी जी ने  किसी एक आईडिया को अपनाना आवश्यक बताया  है वहीँ दूसरी तरफ इस दौरान अन्य ideas को किनारे रखने के लिए भी कहा है. और सही मायने में यही है Focussed होना.

Focus करता  क्या  है  ?

आपने  बचपन  में  lens ज़रूर use किया  होगा ….lens देखने  में  तो  एक  साधारण  कांच  का  टुकड़ा  लगता  है …पर  जब  हम  उसे  कागज़  के  किसी  एक  हिस्से  पर  focus करते   हैं  तो  थोड़ी  देर  में  वो  कागज़  जलने  लगता  है …..

Focus  चीजों  को  संभव  बनाता  है ….जब  आप  भी  अपने  goal पर  focused रहते  हैं  तो  मार्ग  में  आने  वाली  बाधाएं   जल  कर  ख़ाक  हो  जाती  हैं , आपका  रास्ता  साफ़  हो  जाता   है , और  आप  अपना  goal achieve कर  पाते  हैं . Focus आपको  सिर्फ  यह  नहीं  बताता  कि  करना  क्या  है  , यह  भी  बताता  है  कि  क्या  नहीं  करना  है .Focus आपको  आपके  goal से  बांधता  ही  नहीं  , आपको   बेकार  की  चीजों  में  बंधने  से  बचाता  भी  है .

मैं  हमेशा  से  सोचता  था  की  मुझे  कुछ  बड़ा  achieve करना  है . मेरे  लिए   बड़े  का  अर्थ  कभी  lucrative jobs और   अधिक  पैसे  कमाना  नहीं  रहा  है, हालांकि मैं भी financially abundant होना चाहता हूँ  … पर मेरे  लिए जो काम बड़ा है वो है  अधिक  से  अधिक  लोगों  का  जीवन  बेहतर  बनाना .

क्या  Focused रहना  आसान  है ?

Including better job opportunities, foreign travel breaks, other promising income generating ideas, etc. Friends, अगर  आपको  कुछ  World Class करना  है  तो  आपको  पूरी  तरह  से  उस  काम  में डूबना  होगा  और  तब  तक  लगे  रहना  होगा  जब  तक  की  आप  अपने  efforts को  physical reality में  तब्दील  होते  हुए ना देख लें .बीच  में  बहुत  सारे  distractions आयेंगे ; पर  उस  वक़्त   आपको  अपना  focus नहीं  loose करना  है ….और  ऐसा  तभी  संभव  होगा  जब  आप  अपने  काम  या  idea में  पूरी  तरह  से  believe करते  हैं .  इस  मुश्किल  समय  में  जब  mind में  self doubt आने  लगता  है  तब  आपका  belief system ही  आपको  distract होने  से  बचा  सकता  है . इसलिए  काम  शुरू  करने  से  पहले  ही  आप  उस  पर  अच्छी  तरह  से  सोच  विचार  कर  लीजिये , in fact आप  अपने  friends को  आपको  उस  idea या  plan को  लेकर  challenge करने  के  लिए  भी  कह  सकते  हैं . और   अगर  कोई  भी  तर्क -वितर्क  आपकी  आईडिया  को  लेकर  आपके   अन्दर  doubt डालता  है  तो  आप  उस  पर  पुनः  विचार  कर  सकते  हैं . कुछ  शुरू  करने  से  पहले   आपका  अपने  काम  के  successful होने  पर   believe करना  बहुत  ज़रूरी  है  आगे  यही आपके  FOCUS को  उस  पर  बनाये  रखने  में  मदद  करेगा .

तो  क्या  focus करने  का  ये  मतलब  है  कि  हम  और  कोई  काम  करे  ही  नहीं ? 

नहीं , आप  और  काम  करते  हुए  भी  अपना  focus किसी  एक  चीज  पर  बनाये  रख  सकते  हैं . For example: Mahendra Singh Dhoni  Railways में  TTE की  job करते  थे  पर  फिर  भी  उनका  focus cricket था . आप  रोज  TV पर  कितने  ही  singers और  dancers को  देखते  हैं , वो  भी  और  लोगों  की  तरह  पढने  जाते  हैं  या  job करते  हैं  पर  उनका  focus तो  singing या  dancing होता  है .  

देखिये , जब  तक  आपके  मन  का  काम  आपको  financially support नहीं  करने  लगता  तब  तक  कुछ  ना  कुछ  तो  करते  रहना  होगा ….पर  ध्यान  देने  की  बात  ये  है  कि  आपको  और  चीजों  को  सिर्फ  करना  है …पर  आपने  अपने  लिए  जो  Goal decide किया  है  उसे  achieve करने  के  लिए  आपको  उसमे  डूबना  है , और  यही  आपकी  success और  failure के  बीच  का  सबसे  बड़ा  differentiator होगा.

इतना  याद  रखिये  कि  अपने  जीवन  में  एक  normal focussed व्यक्ति  एक  talented  unfocussed  व्यक्ति  से  कहीं  ज्यादा  achieve कर  सकता   है .  और  सच  पूछिए  तो  अगर  हमने  इस  अनमोल  जीवन  को  छोटी - मोटी  चीजें  करने  में  ही  बिता  दिया  तो  हमारे  life की  कोई  value नहीं  रहेगी …..हमारी  अपनी  नज़रों  में  भी ….इसलिए  बड़े लक्ष्य बनाइये  और  उस  पर  focussed होकर  उसे  achieve करिए ….तभी  जीने  का  असली  मजा  है .

—————————————

No comments:

Post a Comment