Saturday, October 29, 2016

​​माँ संवेदना है तो पिता क्या है? ओम व्यास जी की कविता​​


माँ संवेदना है तो पिता क्या है? ओम व्यास जी की कविता
 ​​

पिता जीवन है, सम्बल है, शक्ति है,
पिता सृष्टी मे निर्माण की अभिव्यक्ती है,
पिता अँगुली पकडे बच्चे का सहारा है,
पिता कभी कुछ खट्टा कभी खारा है,
पिता पालन है, पोषण है, परिवार का अनुशासन है,
पिता धौंस से चलना वाला प्रेम का प्रशासन है,
पिता रोटी है, कपडा है, मकान है,
पिता छोटे से परिंदे का बडा आसमान है,
पिता अप्रदर्शित-अनंत प्यार है,
पिता है तो बच्चों को इंतज़ार है,
पिता से ही बच्चों के ढेर सारे सपने हैं,
पिता है तो बाज़ार के सब खिलौने अपने हैं,
पिता से परिवार में प्रतिपल राग है,
पिता से ही माँ की बिंदी और सुहाग है,
पिता परमात्मा की जगत के प्रति आसक्ती है,
पिता गृहस्थ आश्रम में उच्च स्थिती की भक्ती है,
पिता अपनी इच्छाओं का हनन और परिवार की पूर्ती है,
पिता रक्त निगले हुए संस्कारों की मूर्ती है,
पिता एक जीवन को जीवन का दान है,
 पिता दुनिया दिखाने का एहसान है,
पिता सुरक्षा है, अगर सिर पर हाथ है,
पिता नहीं तो बचपन अनाथ है,
तो पिता से बडा तुम अपना नाम करो,
पिता का अपमान नहीं उनपर अभिमान करो,
क्योंकि माँ-बाप की कमी को कोई बाँट नहीं सकता,
और ईश्वर भी इनके आशिषों को काट नहीं सकता,
विश्व में किसी भी देवता का स्थान दूजा है,
माँ-बाप की सेवा ही सबसे बडी पूजा है,
विश्व में किसी भी तिर्थ की यात्रा व्यर्थ हैं,
यदि बेटे के होते माँ-बाप असमर्थ हैं,
वो खुशनसीब हैं माँ-बाप जिनके साथ होते हैं,
क्योंकि माँ-बाप के आशिषों के हाथ हज़ारों हाथ होते हैं
क्योंकि माँ-बाप के आशिषों के हाथ हज़ारों हाथ होते हैं​I

Wednesday, October 19, 2016

अमीर बनना है तो अपनाएं अरबपति वारेन बफे की इन 10 मन्त्रों को !

दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शुमार वारेन बफे को कौन नही जानता? वो न केवल शेयर मार्केट के बादशाह हैं बल्कि दुनिया के सबसे बड़े दानी भी हैं। उन्होंने अपने जीवन में कमाई हुयी अधिकतर सम्पति को दान कर दिया है जिसके कारण उन्हें 21वी सदी का सबसे बड़ा दानवीर कहा जाता है।
                                        दुनिया का सबसे महान निवेशक – वारेन बफे
बचपन से ही उनको पैसे कमाने की इतनी ललक थी कि वो साइकिल से रोज सुबह अख़बार बेचने जाते थे। जब वो केवल 15 वर्ष के थे तब वो अख़बार बांटकर 175 डॉलर हर महीने कमाते थे और उन पैसो को उन्होंने निवेश में लगा दिया था। आपको जानकर ताज्जुब होगा कि वारेन बफे ने कॉलेज पूरा होने से पहले 90,000 डॉलर कमा लिए थे। इसके बाद उन्हें महसूस हो गया था कि निवेश से ही पैसा बनाया जा सकता है और इसी मंत्र के बलबूते पर उन्होंने अपना multi billion dollar साम्राज्य खड़ा कर दिया। आज हम उसी दुनिया के सबसे सफल निवेशक वारेन बफे के धन कमाने के 10 जादुई मन्त्र आपसे share कर रहे हैं।
Money Making Tips in Hindi (Paise Kamane ke Tarike) पैसे कमाने के 10 मंत्र

1) लाभ का निवेश करें

बूंद बूंद से ही सागर बनता है इसलिए अगर छोटी-छोटी रकम की बचत की जाए तो एक समय यह एक बड़ी सम्पति के रूप में तब्दील हो जायेगी। बहुत से लोग लाभ का निवेश करने के बजाय उसे अपनी जरूरत में लगा देते है जबकि वारेन बफे का मन्त्र ये है कि अगर लाभ का 50 प्रतिशत हिस्सा फिर से निवेश किया जाए तो इससे आपके व्यवसाय मे काफी बढ़ोतरी होगी। अगर आपने मुनाफ़े की आदत डाल दी तो चक्रवृद्धी ब्याज का जादू आपको अमीर बनाता जाएगा।

2) लिंक से हटकर चलें 

शेयर मार्केट या अपने व्यवसाय में अगर आप लिंक से हटकर चलेंगे तो आपको बहुत फायदा होगा क्योंकि उससे आपकी एक अलग पहचान विकसित होगी। लिंक से हटकर चलने के लिए आपको अपनी मौलिक सोच को विकसित करना होगा। इसके लिए आप झुंड का हिस्सा ना बने। निवेश का कोई भी निर्णय दूसरों के कहने पर लेने की जगह अपने विवेक के आधार पर लें जिससे आपका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा और आपको आपनी सोच के बारे में भी पता चलेगा कि किस जगह आप सही या गलत कर रहे हैं।

3) दुविधा से बचें 

जो लोग दुविधा की स्तिथि में फंसे रहते है वो आसानी से सुनहरे अवसर को भी गँवा बैठते है। निवेश का फैसला तेजी से लें और इसके लिए उपलब्ध सूचनाओं की पड़ताल करें। निवेश के लिए शुरुवात में आपको जल्दी फैसले लेने में दिक्कत होगी लेकिन जल्द ही आप शीघ्र फैसले लेने के फायदे को समझ जायंगे।

4) निर्णय लेने से पहले सौदे को समझ लें

कोई भी निर्णय लेने से पहले सौदे को अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए। सौदे से आपको किस तरह का फायदा हो सकता है इस बात पर अच्छी तरह से विचार कर लें। किसी भी कागज पर हस्ताक्षर करने से पहले उसे अच्छी तरह पढ़ लें। निर्णय करने की जल्दबाजी में लोग कुछ महत्वपूर्ण चीजो को फिर से चेक करना भूल जाते हैं। इसमें निवेश के कार्य में आपको जल्दबाजी के साथ विवेक का भी उपयोग् करना होगा जो आपको अनुभव के साथ आता जाएगा।

5) छोटे खर्चो पर नियन्त्रण रखें 

अगर आपको ऐसा लगता है कि आप बड़े खर्चों को नियन्त्रण में लाकर निवेश में सफल हो सकते हैं तो आपकी ये अवधारणा गलत है क्योंकि बहुत बार छोटे-छोटे खर्चे आपके लिए अधिक नुकसानदायक साबित हो सकते हैं। कोई भी खर्च करने से पहले विचार करें कि क्या ऐसा करना उचित रहेगा या नही। जिस तरह बूंद-बूंद से सागर भर सकता है उसी तरह बूंद-बूंद निकलने से सागर खाली भी हो सकता है! छोटे-छोटे खर्च मिलकर इतने बड़े हो जाते हैं कि वे आपके अमीर बनने के सपनो को कभी पूरा नहीं होने देते।

6) कर्ज को नियंत्रित करें

अगर आप कर्ज और क्रेडिट कार्ड के सहारे जीने की आदत डालोगे तो कभी अमीर नही बन पाओगे। कर्ज के जरिये भले ही आप अपनी जीवन शैली में सुधार लाने की कोशिश कर सकते हैं लेकिन कर्ज के बोझ तले दबकर आप अपनी वित्तीय स्तिथि में सुधार नही ला सकते हैं। कई निवेशक खूब सारा पैसा बैंको से उधार ले लेते है लेकिन बाद में उनको केवल उधार चुकाने में सारा जीवन निकल जाता है। उधार उतना ही लें जितना आप एक निश्चित समय में चुका सकें।

7) निरन्तरता बनाये रखें 

अगर आप ऐसा सोचते है कि जो काम आप कर रहे है वो महत्वपूर्ण और सही है तो निरन्तरता बनाये रखें। अपने लक्ष्य की दिशा में मजबूती के साथ कदम बढ़ाते रहें। निरंतरता जीवन के हर व्यवसाय या कार्य में जरुरी है। जब तक कोई तार्किक या बड़ी वजह ना हो चीजों कि बीच में ही नहीं छोड़ देना चाहिए, ऐसा करने से कुछ हासिल नहीं होता, बल्कि आपने पहले से जो समय और धन लगाया वो भी नुक्सान हो जाता है।

8) नुकसान से दूर रहें  

किसी भी निवेश के दौरान जब आपको लगे कि नुकसान हो रहा है तो तुरंत उससे अलग हो जाने का निर्णय बना लें। हाथ पर हाथ धरे रहकर बैठने का अर्थ है ओर अधिक नुकसान का सामना करना। कई निवेशक अंतिम समय तक इंतजार करते हैं लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी होती है इसलिए नुकसान के सौदे में समय से पहले ही हाथ खड़े कर देने चाहिए।

9) जोखिम का आंकलन करे

जब भी आप निवेश का कोई निर्णय लेना चाहे तो सबसे पहले भावी परिणामो के बारे में विचार करे। जोखिम का आंकलन करे क्योंकि जोखिम का आकलन करने पर ही आप उचित निर्णय ले सकते हैं। हर इंसान की जोखिम लेने की अपनी क्षमता होती है, आप दूसरों को देखकर अपने निवेश का फैसला न करें बल्कि अपनी risk appetite के हिसाब से इन्वेस्ट करें।

10) सफलता का सही अर्थ समझें 

प्रत्येक व्यक्ति के लिए सफलता के अलग अलग मायने होते हैं। केवल पैसे जमा करना ही सफलता नही है। जिन बातो से जीवन अर्थपूर्ण बनता है उन बातो की तरफ ध्यान देना भी सफलता का अहम हिस्सा है। आप जिन लोगो का प्यार पाना चाहते है उनमे से कितने लोग वास्तव में आपको प्यार करते है इसी बात से सच्ची सफलता का मतलब समझा जा सकता है। आप अपने निवेश को अपनी सफलता से जोड़ कर देखें और अपनी investment strategy में लगातार सुधार करते हुए सफलता प्राप्त करें।
तो मित्रो अगर आप वारेन बफे के इन 10 जादुई मन्त्रो का उपयोग निवेश में करेंगे तो ना केवल आप अमीर बन सकते है बल्कि वारेन बफे की तरह एक सफल व्यक्ति भी बन सकते है।